तुरंत एसिडिटी ठीक करने का इलाज घरेलु नुस्खे और उपाय

Sending
User Review
0 (0 votes)

acidity upay in hindi,

All types Acidity treatment in Hindi – आज के समय में हमारे खान पान के जो तरीके हैं वह बिलकुल Unnatural हैं. और इसी वजह से हमें acidity, पेट में जलन और पाचन तंत्र (Digestion) से Related बहुत सी problems का सामना करना पड़ता है. और फिर हम acidity दूरकरने के लिएGoogle Search या किसी Doctor की मदद लेते हैं की आखिर इस इससे छुटकारा कैसे पाए बताये. इसीलिए हम यह बता रहे है एसिडिटी का इलाज इन हिंदी कैसे करे व पेट की जलन को कैसे ठीक करे.

तो चलिए अब आपको इस बारे में चिंता करने की कोई जरुरत नहीं है क्योंकि हम आपको इस शिकायत से छुटकारा करने के लिए ढेर सारे घरेलु नुस्खे बताएंगे. जो की एसिडिटी से होने वाली जलन को मिटाने में आपकी मदद करेंगे How to control uric acid acidity problem.

एसिडिटी क्यों और कैसे होती हैं ??

हमारे भोजन करने के बाद जब भोजन पेट के अंदर पाचन तंत्र में पहुंचता हैं तब इस भोजन को पचाने के लिए एक “Acid” बनता हैं, जो की पेट में भोजन को पचाने का काम करता हैं. जब यह Acid पेट में जरुरत से ज्यादा बनने लगे तो acidity व पेट में जलन (Heart burning) सी मालुम होने लगती हैं. जब हम भोजन को Unnaturally करते हैं तो हमारा digestive system इसको पचाने के लिए सही तरीके से काम नहीं कर पाता और वह Out of control हो जाता है जिस वजह से यह Acid जरुरत से ज्यादा बन जाता हैं और एसिड के ज्यादा बनने से जलन होने लगती है. और फिर हम अंग्रेजी दवा uric acid medicines लेने के लिए भागे फिरते है.

भोजन को पचाने वाले इस Acid की भूमिका

  • यह acid Vitamin B12 को Absorb करता है. और यह Vitamin हमारे Brain और Nervous System को properly function करने में मदद करता हैं.
  • यह Acid हमारे पेट में मौजूद जानलेवा bacteria को ख़त्म करने में मदद करता हैं.
  • Pepsin enzymes को सक्रीय करता है जो की digestion process में मदद करता है.
  • यह एसिड भोजन को पचाने वाले अंगो को सक्रिय करता है.
  • Intestines को भोजन में से nutrients absorb करने में मदद करता हैं

एसिडिटी होने के कारण

  • चाय और कॉफ पिने से एसिडिटी होती है. (खासकर भूखे पेट होने पर कभी भी चाय कॉफ़ी न पिए)
  • Smoking करने से भी Acidity होती हैं.
  • ज्यादा और अनियमित चटपटा मसाले वाला भोजन करना
  • Alcohol पिने से भी यह तकलीफ होती है, (एक दायरे में रहकर alcohol पिए) ज्यादा alcohol digestion process को damage करती हैं.
  • दिन में कभी भी कुछ भी खाना
  • खाना खाने के बाद तुरंत सो जाना
  • तैलीय चीजें oily foods खाना आदि Acidity के reason होते है.
  • कम पानी पिने से
  • आप कुछ भी खाने पिने से पहले एक गिलास पानी जरूर पिए तो इससे जलन नहीं होगी, यह एसिडिटी से छुटकारा पाने का अनोखा उपाय है करके देखें. अगर आप यह करते है तो आपको एसिडिटी का उपचार के नुस्खेअपनाने की जरूरत ही नहीं पड़ेगी. यह उपाय गैस एसिडिटी दोनों में मदद करेंगे.

एसिडिटी के लक्षण 

  • पेट में जलन सा मालूम होना
  • जी मचलना
  • खट्टी और कड़वी डकारे आने लगना
  • कब्ज की समस्या होना
  • गैस की समस्या होना
  • उलटी करने जैसे मन होना
  • सर दर्द और पेट में अजीब सा महसूस होना
  • Heart में जलन होने लगना

एसिडिटी का इलाज करने के घरेलु उपाय

Acidity permanent solution in hindi

Pet Me Jalan Ka Ilaj : Acidity Treatment in Hindi

  • एसिडिटी होने पर 3-4 केले खाये तो एसिडिटी तुरंत ठीक हो जाती है.
  • Acidity होने पर 5-6 तुलसी के पत्तों को अच्छे से चबा-चबा कर खाये व चूसें, तुलसी का यह प्रयोग बहुत आसान और मददगार हैं.
  • Acidity से राहत पाने के लिए 2 इलाइची को लेकर उनके दाने निकाल लें फिर इन्हे पानी में डालकर अच्छे से उबाल लें. इसके ठन्डे हो जाने पर जब भी पेट व सीने में जलन महसूस हो तो इलाइची के इस ड्रिंक को पिए इसको पिने से तुरंत आराम मिलेगा. Instant relief treatment for acidity.
  • यह जरूर करे : आप खाना खाने से पहले ही 4 चम्मच अलोएवेरा का juice पीजिये. और ज्यादा problem होती हो तो खाना खाने के आधे घंटे बाद भी 4 चम्मच अलोएवेरा juice पिली जिए. अलोएवेरा का juice पिने से Acidity हमेशा के लिए ठीक हो जाती हैं. (हमेशा के लिए छुटकारा पाने का घरेलु उपाय . (आप इस नुस्खे को जरूर Try करे).
  • ये दादी माँ के घरेलु नुस्खे में से एक है : एक दो लौंग को मुंह में रखकर चबाये और चूसै जब इसमे से juice निकलने लगे तो उसे पेट में उतार लें, लौंग का पेट की जलन के लिए यह उपाय पेट से सम्बंधित होने वाली सभी समस्याओं जैसे उलटी, जी मचलना आदि को तुरंत ख़त्म कर देता है सीने में जलन के उपाय .
  • आमला जो की कफ और पित्त की शिकायत को ख़त्म करता है इसमे Vitamic C भरपूर मात्रा में पाया जाता है इसके सेवन से पेट के सभी अंग स्वस्थ बनते हैं. यह एसिडिटी को भी नियंत्रित करता हैं. रोजाना दिन में दो बार आंवला के powder का सेवन करे, यह सेवन Acidity को शांत करेगा.
  • गाय का दूध : इसके लिए यह जरुरी हैं की दूध ठंडा हो और उसमे किसी भी तरह का कोई Powder, Sugar आदि न मिली हो. आप इस दूध में थोड़ा शुद्ध घी भी मिला सकते हैं. ऐसा करने से यह और ज्यादा असरदार हो जायेगा. एक गिलास दूध पिले.
  • Popular : भूख बढ़ाने के रामबाण घरेलु नुस्खे

Sleeping Position For Acidity Solution

बहुत से लोगों को सोते वक्त पेट में जलन होती हैं. यह जलन गलत तरफ सोने से होती हैं. नींद में सोते वक्त होने वाली पेट में जलन से बचने के लिए हमेशा Left side में सोये. इस दिशा में सोने से जलन बिलकुल नहीं होगी और याद रख right side में कभी न सोये.

Sote wakt acidity hone se bachane ka upay
  • एक दो चम्मच apple cider vinegar को पानी में मिला लें, फिर सुबह शाम और जब भी पेट में जलन महसूस होने लगे तो इसके drink का सेवन करें. (इसका उपयोग आप भोजन करने से पहले भी किया जा सकता हैं).
  • जब भी Acidity होने लगे तो जीरे के कुछ दाने को चबाकर चूसें या फिर जीरे के कुछ दानो को पानी में अच्छे से उबालकर रख लें फिर जब भी acidity होने लगे तो इसको पिए. ऐसा करने से acidity तुरंत शांत हो जायेगी.
  • रोजाना सुबह व शाम भोजन करने के बाद 10 ग्राम गूढ़ यानी गुड़ का छोटा सा टुकड़ा खाये तो यह एसिडिटी को नहीं होने देगा और शरीर में खून बढ़ाएगा साथ ही अन्य कई लाभ देगा. इस एसिडिटी के घरेलु नुस्खे को हम भी करते है.
  • सौंफ के कुछ दानो को चबाकर चूसने से भी Acidity में राहत मिलती हैं. इसके साथ ही सौंफ का एसिडिटी के लिए खास घरेलु उपचार भी है जो की इस तरह हैं – सौंफ के कुछ दानो को पानी में अच्छे से उबाल लें और फिर इसे रात भर ऐसे ही छोड़ दें, फिर सौंफ के इस उबले हुए पानी को जब भी आपको पेट में जलन महसूस होने लगे तब पिए. यह drink एसिडिटी से तुरंत राहत दिलाएगी.

रोजाना सुबह व शाम खाना खाने के बाद 10 ग्राम गुड़ खाये. एसिडिटी के लिए यह 1 मिनट का उपचार एसिडिटी जड़ से ख़त्म करने के इलाज के लिए बहुत असरदार होता है. इसका प्रयोग हम भी रोजाना करते हैं.

acidity ka gharelu upay, acidity ke liye gharelu nuskhe in hindi
Top 11 Most Common hindi home remedies for acidity treatment.
  • Ice Cream का सेवन करना भी एसिडिटी पेट की जलन को तुरंत ठीक करने वाले घरेलु उपचार में से एक हैं. Acidity का यह उपाय बहुत tasty और सबका पसंदीदा हैं. जब भी आपको पेट में जलन महसूस हो तो आप ice cream का सेवन कर सकते हैं.
  • खीरा और तरबूज से भी एसिडिटी को ख़त्म की जा सकती है. क्योंकि खीरा और तरबूज में 80 percent से ज्यादा पानी पाया जाता हैं जो की शरीर में पानी की कमी को तुरंत दूर करता है और पेट की समस्याओं से राहत दिलाता हैं.
  • तरबुज का पानी आम साधारण पानी के मुकाबले एसिडिटी के लिए बहुत असरकारी होता है. तरबूज का रस पिए.
  • अदरक और निम्बू के जूस की दो-दो बून्द हलके गरम पानी में मिला लें, अच्छे से मिलाने के बाद इसको पी ले तो एसिडिटी ठीक हो जाएगी.
  • जब भी आपको लगे की आपने जरुरत से ज्यादा भोजन कर लिया है तो अदरक और नींबू की दो-दो बून्द के साथ एक थोड़ी सी शहद मिलाकर सेवन करे.
  • एसिडिटी होने पर क्या करे : ऐसे में अनार का जूस पिए यह एसिडिटी भी ख़त्म करेगा और भोजन को पचाने में भी मदद करेगा. इसके अलावा गुड़ खाये, सौंफ और मिश्री खाये.
  • एसिडिटी की जलन का इलाज के लिए संतरे का रस भी पिया जा सकता है यह भी बहुत तुरंत लाभ देता है.
  • व्रत (Fasting) , उपहास करने से भी एसिडिटी व पेट की पाचन शक्ति से जुडी सभी समस्याओं से राहत पाई जा सकती हैं. इसके लिए सप्ताह में 1-2 दिन fasting करे. (fasting के बिच सिर्फ fruits और fruits juice का सेवन करे)

एसिडिटी के लिए राजीव दीक्षित जी के नुस्खे

  • रात को सोते समय 10 ग्राम किशमिश पानी में भिगोकर रख दें और फिर सुबह उठकर इसका सेवन करे.
  • एक तांबे के बड़े कप या बड़े बर्तन जिसमे 2-3 ग्लास पानी भरा जा सके, इसको रात में सोने से पहले अपने Bed के पास में रखकर सोये और सुबह उठने के तुरंत बाद ही यह सारा पानी पि जाए.
  • (तांबे के बर्तन की जगह साधारण बर्तन का उपयोग भी किया जा सकता है) यह आसान उपाय आपको Acidity, Pimples, चेहरे की सुंदरता, पेट की समस्या आदि में बहुत फायदे देगा. (यह राजीव दीक्षित जी के एसिडिटी के लिए घरेलु नुस्खे में से एक है).

रोजाना खाना खाने के बाद एक कप दही या लस्सी का सेवन करे, इनका सेवन एसिडिटी की जलन और पेट से जुडी सभी समस्याओं में राहत दिलाता हैं. (Ancient remedy यह एसिडिटी का आयुर्वेदिक घरेलु नुस्खे में से एक है) आज भी इसका प्रचलन बहुत से ढाबो में किया जाता है, यहां खाना खाने के बाद एक कटोरी में दही दिया जाता है. क्योंकि यह पेट से जुडी सभी समस्याओं के लिए रामबाण से कम नहीं होता.

दही का सेवन रात के समय न करे, अगर आप रात का भोजन सूर्यास्त होने से पहले कर लेते हैं तो ही दही का सेवन करे, अन्यथा सूर्य ढलने के बाद दही का सेवन नुकसानदायक होता हैं.

Top 10 Easy Remedies 

  • खाने को हमेशा अच्छे से चबा-चबा कर खाये
  • पपीता, गाजर, पत्तागोभी, केले, सेब, पाइनएप्पल का juice एसिडिटी के लिए देसी उपचार के लिए आसान उपाय माने जाते हैं.
  • Acidity की जलन से राहत पाने के लिए रोजाना दिन में किसी भी समय निम्बू की शिकंजी का सेवन करे.
  • एसिडिटी से तुरंत छुटकारा पाने के लिए बेकिंग सोडा को एक ग्लास पानी में मिलाकर पिए, इसके सेवन से तुरंत आराम मिलेगा.
  • रात के समय त्रिफला चूर्ण और शहद का सेवन करने से भी एसिडिटी में आराम मिलता हैं.
  • रोजाना केले और सेब खाये.
  • थोड़े से अजवाइन को एक ग्लास पानी में मिलाकर पिने से भी acidity ki jalan बंद हो जाती है.
  • जैसा की हमने बताया एसिडिटी ठीक करने के उपाय में आप तुलसी के पत्ते, इलाइची और लौंग का सेवन करे. इनको मुह में चबाते हुए इनका रास चूसते रहने से पेट में जलन नहीं होती.
  • भोजन करने के बाद 10 ग्राम गुड़ खाने से भी एसिडिटी नहीं होती हैं.
  • एसिडिटी में क्या खाना चाहिए सब्जी : – कद्दू, प्याज, पत्तागोभी, गाजर और सभी हरी सब्जियां. और साथ ही कम मसाले की सब्जियों का सेवन करे.

पेट में जलन का आयुर्वेदिक उपचार

  • इसके  लिए पतंजलि का “Divya avipattikar churna” भी से भी उपचार किया जा सकता है. यह चूर्ण एसिडिटी बनाने वाले Acid को Control में करता है और इसके साथ ही पाचन तंत्र से जुडी सभी समस्याओं में भी राहत दिलाता हैं.
  • रामदेव बाबा की एसिडिटी के लिए आयुर्वेदिक मेडिसिन Divya avipattikar churna का उपयोग दिन में 2 बार भोजन करने के बाद 2-4 चम्मच सेवन करना चाहिए.
  • यह चूर्ण/दवा गैस, पेट में जलन, अम्लपित्त, खट्टी डकारे, खाना खाने के बाद उलटी जैसे मन होना आदि के उपचार के लिए बहुत उपयोगी होती हैं.

एसिडिटी में कोन सा योग करे

अगर आप एसिडिटी, कब्ज और पेट की सभी समस्याओं का जड़ से इलाज करना चाहते है वह भी बिना किसी अंग्रेजी दवा और ट्रीटमेंट के बिना तो आप निचे बताये जा रहे योग रोजाना 10 मिनट तक करे.

  • कपालभाति प्राणायाम – 2-5 मिनट
  • अनुम विलोमा प्राणायाम – 2 मिनट
  • भस्त्रिका प्राणायाम – 2-3 मिनट
  • पवनमुक्तासन योग uric acid problem solution in Hindi
  • इनके बारे में और ज्यादा जानने के लिए यहां पर क्लिक करे :  Acidity Yoga & Pranyama

एसिडिटी से बचने के घरेलु नुस्खे और उपाय

  • भोजन के बाद गुड़ खाये
  • एक ग्लास पानी में मीठा सोडा मिलाकर पिए
  • पुदीना की पत्तियों को उबालकर पिए
  • गुन-गुने पानी में निम्बू डालकर पिए
  • नारियल पानी पिए
  • त्रिफला पाउडर को दूध में मिलाकर पिए
  • अलोएवेरा का जूस पिए
  • मूली को छोटे टुकड़ों में काटकर उसमें कालीमिर्च पाउडर और कला सेंधा नमक मिलाकर खाये
  • खाना खाने के बाद एक चम्मच सौंफ और मिश्री खाये
  • शहद को अदरक के रस में मिलाकर पिए.
  • ऐसे ही परमानेंट 5 उपाय के बारे में जानने के लिए यहां क्लिक करे >>Acidity Permanent Treatment Must Read.

उम्मीद है दोस्तों आपको बताये गए एसिडिटी का इलाज के घरेलु नुस्खे acidity treatment in Hindi को पढ़कर आपको अच्छा लगा हो. अगर आप पेट में जलन का उपचार से related हमसे कुछ पूछना चाहते हैं तो निचे Comment कीजिये हम एसिडिटी कैसे दूर करे और उपाय के बारे में और भी बहुत कुछ help करेंगे. हमने यहां एसिडिटी के जितने भी ख़ास नुस्खे पाए जाते है वह सभी यहां पर बताये हैं.

Share करने के लिए निचे दिए गए SHARING BUTTONS पर Click करें. (जरूर शेयर करे ताकि जिसे इसकी जरूर हो उसको भी फायदा हो सके)
आयुर्वेद एक असरकारी तरीका है, जिससे आप बिना किसी नुकसान के बीमारी को ख़त्म कर सकते है। इसके लिए बस जरुरी है की आप आयुर्वेदिक नुस्खे का सही से उपयोग करे। हम ऐसे ही नुस्खों को लेकर आप तक पहुंचाने का प्रयास करते है - धन्यवाद.