बालतोड़ पकाने के उपाय और जड़ से इलाज : आसान नुस्खे

baltod kyu hota hai, baltod in hindi, boil in hindi
बालतोड़ पकाने के उपाय और जड़ से इलाज : आसान नुस्खे
Rate this post

बालतोड़ का इलाज के घरेलु उपाय इन हिंदी – यह एक सामान्य सा रोग है जो की प्रत्येक व्यक्ति को होता हैं. जब हमारे शरीर का कोई तना बाल उखड़ जाता है तो उसमे बालतोड़ हो जाता है व त्वचा के बाल का staphylococcus bacteria के संक्रमण में आने से यह उतपन्न होते हैं. यह कोई बीमारी या घातक नहीं होता है, लेकिन यह दर्द बहुत देता हैं और जिस जगह पर बालतोड़ हो जाये वहां पर बहुत ही दर्द होता है और वह अंग ठीक से काम भी नहीं कर पाता हैं. आइये जाने इसको फोड़ने के उपाय के बारे में जो की baltod boil treatment in Hindi में सहायक होगा.

जब यह किसी व्यक्ति को होता है तो वह उसका अपने आप पकने का इंतजार करते है, व बालतोड़ को अपने आप पकने में बहुत समय लगता है, इस बिच रोगी को दर्द को सहन करना पड़ता हैं. लेकिन आप अगर चाहे तो जल्दी से बालतोड़ पकाने के उपाय के करके इसको जल्दी पकाकर ख़त्म कर सकते हैं. इस तरह आपको बालतोड़ पैन से भी छुटकारा मिलेगा.

बालतोड़ के लक्षण – शरीर में जहां भी यह होता है वहां पर सबसे पहले छोटी सी फुंसी बनती है व उसके पास की जगह लाल हो जाती है, फिर धीरे-धीरे वह फुंसी बालतोड़ का रूप लेते है व यह पिले रंग के पस से भर जाता हैं. अगर यह प्राइवेट पार्ट पर हो जाए या शरीर के जोड़ पर हो जाए तो तकलीफ और भी बढ़ जाती हैं इसलिए प्राइवेट पार्ट पर बालतोड़ का ट्रीटमेंट बहुत जरुरी होता हैं.

baltod kyu hota hai, baltod in hindi, boil in hindi

बालतोड़ का इलाज के उपाय

Boil Treatment in Hindi

  • बालतोड़ होने पर गेहूं के 18-21 दाने अपने दांतों से अच्छे बारीक़-बारीक चबाकर बालतोड़ पर लगाए और किसी कपडे से उसे बांध दें. इस तरह रात के समय पर करे तो सुबह तक यह बिलकुल ठीक हो जाता हैं, यह उपाय सबसे ज्यादा असरकारी व तुरंत फल देने वाला हैं, हमने भी इसे आजमाया है. अगर एक बार के प्रयोग में आराम न मिले तो दो तीन दिन तक इसका प्रयोग करे 100% आराम मिलेगा.
  • 50 ग्राम नीम के पत्तों को पीसकर इसकी एक टिकिया सी बना लें. इसे पुल्टिस के समान बालतोड़ पर लगाने से वह शीघ्र अच्छा हो जाता हैं. अगर बालतोड़ में पीव आगया हो तो नीम की पत्तियों में उत्न्नी ही कालीमिर्च पीसकर लगावे, यह बहकर सुख जायेगा.
  • पीसी हुई मेहंदी भिगोकर जैसे हाथों में लगाई जाती है, वैसे बालतोड़ के स्थान पर गाढ़ा-गाढ़ा लेप सुबह और रात को लगाने से बालतोड़ जल्द ही ठीक हो जाता हैं.
  • मेहंदी के पेड़ की पत्तियों को बारीक़ पीसकर उसके पेस्ट को बालतोड़ पर लगाया जाए तो इससे भी बहुत ही लाभ होता हैं.
  • घरेलु उपचार में प्याज को खूब बारीक़ पीसकर उसका लेप फुंसी फोड़े पर लगाते रहने से दो से तीन दिन में पूरी तरह से आराम आ जाता हैं.
  • फोड़ा होने पर प्याज को मिटटी चढ़ाकर गर्म राख में भूनकर उसमें थोड़ी सी हल्दी मिलाकर शुद्ध घी या सरसों के तेल में भूनकर पुटिस बना लें. यह पुल्टिस बालतोड़ व फोड़े पर बांधते रहने से वह शीघ्र ही पककर फुट जाता है और घाव भी भर जाता है. इस पुल्टिस को तीन चार घंटे बाद बदलते रहना चाहिए. यह बालतोड़ का घरेलु उपाय बहुत ही असरदार है.
  • पीसी हुई मेहंदी भिगोकर जैसे हाथों में लगाई जाती है वैसे ही बालतोड़ के स्थान पर गाढ़ा गाढ़ा लेप सुबह और रात को लगाने से बालतोड़ तुरंत ही ठीक हो जाता है.
  • बालतोड़ के बैक्टीरिया के संक्रमण को मिटाने के लिए एक गिलास पानी या दूध में 1-2 चम्मच हल्दी डालकर पिए ऐसा लगातार 5-6 दिनों तक करे. यह जड़ से बार बार बालतोड़ होने से रोकता है.
  • विषाक्त फोड़े और गांठ में गेंदे के पत्तों की पुल्टिस मेदा या सूजी के साथ बनाकर लगाने से बालतोड़ व फोड़ा पककर फुट जाता है और रोगी को आराम मिलता हैं.
  • 50 ग्राम नीम के पत्तों को पीसकर इसकी एक टिकिया सी बना लें. इसे पुल्टिस के समान बालतोड़ से उत्पन्न फोड़े पर बल टूटने से उत्पन्न फोड़े पर लगाने से वह तुरंत ही अच्छा हो जाता हैं. यह सभी बालतोड़ की मेडिसिन या क्रीम से भी बेहतर है.
  • कलोंजी के बीजों को पीसकर उसका पेस्ट बना ले और बालतोड़ पर लगाए, ऐसा दिन में तीन से चार बार तक करे. इसमें आप कलोंजी के तेल का प्रयोग भी कर सकते है.
  • बालतोड़ का इलाज करने के लिए रोटी के एक टुकड़े को पानी में डुबोकर बालतोड़ पर रख दें व ऊपर से कपडे से उसकी पट्टी करे दें तो बालतोड़ पककर फुट जाता हैं.
  • टी ट्री आयल में रुई को भिगोकर बालतोड़ पर लगाए, ऐसे दिन में तीन से चार बार तक करे.
  • हल्दी और अदरक के रस को बराबर मात्रा में लेकर पेस्ट बनाकर बालतोड़ पर लगाए दिन में 2-3 बार तो इससे भी लाभ होगा.
  • बालतोड़ के उपचार में सूती कपडे को आग पर गर्म कर के बालतोड़ पर सिंकाई करे तो इससे भी दर्द में आराम मिलता है यह जल्दी जल्दी बालतोड़ पकाने का तरीका है.

baltod ka ilaj, baltod ka gharelu ilaj in hindi, baltod ka ilaj in hindi, boil treatment in hindi,

Private Part पर बालतोड़

  • (private part par baltod hona) अगर प्राइवेट पार्ट कोई बालतोड़ हो भी जाए तो आप सबसे पहले ऊपर बताये गए गेहूं के दानो का प्रयोग करे. आपको सिर्फ गेहूं के दानो को आपने मुंह से चबाकर लगाने हैं, चबाये हुए गेहूं को लगाकर उसके ऊपर रुई रख दें व फिर डॉक्टर टेप से उसे चिपका दें. इस तरह एक प्रयोग तो सोने से पहले करे यानी सोने से पहले गेहूं को लगाकर सो जाए व आप चाहे तो इसे दिन में भी कर सकते हैं. वैसे सिर्फ रात का प्रयोग ही पर्याप्त होता हैं.
  • प्याज की स्लाइस को बालतोड़ पर रखकर कपडे से बांध दें, ऐसा रोजाना रात को सोते वक्त व दिन में करे तो शीघ्र ही पककर फुट जाता है.
  • पीपल पेड़ की छल को निकाल कर अच्छे से घिसकर थोड़ा सा पानी मिलाये और पेस्ट तैयार करे. अब इस पेस्ट को बालतोड़ पर लगा दें इस प्रयोग को दिन में चार बार तक कर सकते हैं. बालतोड़ में बहुत लाभ देता हैं.
  • कच्ची फिटकरी के एक टुकड़े को पानी में घिस लें व इसे बालतोड़ पर लगाए दिन में चार बार ऐसा करे.

इस पोस्ट के अगले पेज को पड़ने के बाद यह सभी पोस्ट भी जरूर पड़ें.

  • इस पोस्ट के पिछले पेज में हमने ऐसे ही फोड़े फुंसी के बारे में बताया था, आप उन्हें भी एक बार जरूर पड़ें. – Previous Page

दोस्तों अब आप इन तरीको से घर पर ही बड़ी आसानी से बालतोड़ पकाने के उपाय व घरेलु नुस्खे boil treatment in Hindi के जरिये आप बड़ी आसानी से इससे छुटकारा पा सकते हैं, यहाँ दिए गए सभी ठीक करने के तरीके को बहुत ही असरदार है. आप इसमें गेहूं का सबसे पहले प्रयोग करे.

आयुर्वेद एक असरकारी तरीका है, जिससे आप बिना किसी नुकसान के बीमारी को ख़त्म कर सकते है। इसके लिए बस जरुरी है की आप आयुर्वेदिक नुस्खे का सही से उपयोग करे। हम ऐसे ही नुस्खों को लेकर आप तक पहुंचाने का प्रयास करते है - धन्यवाद.