कपालभाति प्राणायाम के लाभ : चमत्कारी 41 फायदे हर रोग की दवा

कपालभाति प्राणायाम के लाभ, kapalbhati ke fayde, कपालभाति के फाय
Sending
User Review
0 (0 votes)

कपालभाति प्राणायाम के लाभ और इस से हानि और चमत्कार के बारे में आज हम जानेंगे, कपालभाति प्राणायाम अद्भुत है, यह कई चमत्कारी फायदे देता है, शारीरिक लाभ से लेकर मानसिक लाभ देता है. इसको अगर रोजाना किया जाए तो मनुष्य को आधुनिक बीमारियां छू भी नहीं सकती, इतना शक्तिशाली होता है कपालभाति प्राणायाम. इसीलिए बाबा रामदेव कपालभाति करने की सलाह में इतना जोर देते है.

कपालभाति करने के हजारों फायदे होते है, हम यहां आपको फायदों के बारे में बताने वाले है. हमे पूरी उम्मीद है की आप इनके फायदे जानकर जरूर ही इसे कल से ही करने लगेंगे, तो चलिए अब आगे हम आपको बताते है kapalbhati ke fayde baba ramdev kapalbhati pranayama in hindi भाषा में साथ ही जानेंगे की इसको करने पर किसी तरह की हानि नहीं होती, बस अगर गलत तरीके से इसे करे तो हानि हो सकती है. बाकी यह हर तरह से लाभदायक होता है.

Kapalbhati Ke Fayde in Hindi

कपालभाति प्राणायाम के लाभ और हानि

कपालभाति प्राणायाम के लाभ, kapalbhati ke fayde, कपालभाति के फाय

आइये पहले थोड़ा जान ले की कपालभाति कैसे किया जाना चाहिए है ?? कपालभाति करने का सही तरीका क्या होता है ??

इसे खाली पेट रहने पर ही करना चाहिए, सुबह थोड़ा जल्दी उठे 2 गिलास पानी पिए और पेट साफ़ करने के लिए चले जाए. पेट साफ़ हो जाने के बाद आप निचे जमीं पर कुछ बिछाने के लिए गद्दा लें और किसी खुली जगह पर जाए जहां पर ताज़ा हवा आती हो.

अब आप सिद्धासन या पद्मासना में बैठ जाए, जिस आसान में आप ठीक से बैठ सके वैसे बैठ जाए. वैसे पद्मासना इसके लिए श्रेष्ठ होता है, लेकिन यह नए योग करने वालो के लिए आसान नहीं होता. इसलिए आप सिद्धासन में बैठ जाए.

अब अपनी कमर सीधी रखे और अपने दोनों हाथों को पैरों के घुटनो पर रख दें, आंखें बंद कर लें, पुरे शरीर को ढीला छोड़ दें, पेट को भी ढीला छोड़ दें. दो-चार गहरी सांस लें और पूरी सांस को बाहर निकाल दें.

अब अपने पेट को अंदर की तरफ खींचते हुए सांस को बाहर निकाले, आपको पेट को अंदर करते वक्त इस तरह से उसे अंदर करना है जैसे की हम किसी चीज को निचोड़ते है. आपको ठीक वैसे ही पेट को निचोड़ते हुए अंदर की तरफ धकेलना है, शुरुआत में यह आसान नहीं होगा. इसलिए आप शुरुआत में ज्यादा परेशान न होये, और आराम से करे.

kapalbhati kaise kare, kapalbhati karne ka tarika

आपको सिर्फ पेट को जोर से अंदर खींचना, पेट की सभी मांसपेशियों को झटके से अंदर खींचना है और सारी सांस को बाहर फेंकना है. अगर आप इसे ठीक से करेंगे तो 3-4 मिनट में ही आप पाएंगे की आपको ताज़गी महसूस हो रही है, आनंद आ रहा है.

कपालभाति प्राणायाम में पेट से सांस को बाहर फेंका जाता है, यानी पेट से लेकर ऊपर तक की सारी सांस को बाहर करना होता है. इसलिए आप पेट को अंदर ले जाते वक्त सांस को बाहर फेंके. सांस को बाहर फेंकते से ही ढीला न छोड़े 1 second, सांस बाहर फेंकने के बाद रुके जरा सा रुके 1 second के लिए ऐसा करने से सांस पूरी बाहर हो जाएगी और फिर पूरी नयी ताज़ा हवा आपके शरीर में प्रवेश कर जाएगी.

अपने पेट को इस तरह से अंदर बाहर करे जैसे की कोई लोहार लोहे पर चोट कर रहा हो, अपनी सांस को धोंकनी की तरह फेंकते रहे.

वीडियो में देखे बाबा रामदेव बता रहे है की कैसे कपालभाति करना है, पूरी डिटेल में. फिर आप इसके फायदों के बारे में भी निचे पड़ें.

कपालभाति से हानि तब होती है जब आप खाना खाने के बाद करते है, गन्दी हवा के बिच इसे करते है, पेट में कोई समस्या होने पर इसे करते है, गर्भवती महिला को तो यह नहीं करना चाहिए, अगर पेट का ऑपरेशन हुआ है तो भी इसे नहीं करे, बाकी अगर आप सही तरीके से कपालभाति प्राणायाम करते है तो आपको पूरा लाभ मिलेगा, कपालभाति के चमत्कार आपको मिलने लगेंगे.

आइये अब जानते है कपालभाति के फायदे के बारे में, इसको करने पर कौन-कौन से लाभ होते है और यह हमारे लिए क्यों जरुरी है.

कपालभाति प्राणायाम ऐसा है की यह सांसारिक व्यक्ति और आध्यात्मिक व्यक्ति दोनों के लिए बहुत फायदेमंद होता है.

  • सांसारिक व्यक्ति को यह स्वस्थ शरीर, मानसिक क्षमता और सभी रोगों को नष्ट करने में मदद करता है, बाल झड़ना, पेट की समस्या आदि से छुटकारा दिलाता है.
  • आध्यात्मिक व्यक्ति के लिए भी कपालभाति बहुत आवश्यक होता है, बिना प्राणायाम किये किसी की भी आध्यात्मिक यात्रा सफल नहीं होती, यह शरीर में ऊर्जा को जगाता है. हम सभी के शरीर में अनंत ऊर्जा छिपी हुई है, लेकिन वह सब सोइ हुई है और यह सभी प्राणायाम उसी ऊर्जा को जगाने का कार्य करते है. इसीलिए कपालभाति और अन्य प्राणायाम का इतना महत्त्व है.

कपालभाति करने से यह फायदे होते है :-

आप कपालभाति प्राणायाम के लाभ में पाएंगे की यह हर रोग में फायदा करता है. शरीर को निर्गुणी करता है. जिन्हे तम्बाकू, शराब पिने की लत है यह उनको भी ठीक करता है.

  • शरीर में ताज़गी आती है, जो की तुरंत महसूस की जा सकती है.
  • पेट के सभी रोगों से छुट्टी मिलती है.
  • पेट की चर्बी कम करता है, पेट को बढ़ने से रोकता है.
  • मोटापे से मुक्ति दिलाता है, मेटाबोलिज्म को नियंत्रित रखता है.
  • आधुनिक बिमारियों से बचाता है.
  • बाल झड़ना, बालो की समस्या आदि से छुटकारा दिलाता है.
  • आंखों की रोशनी को तेज करता है.
  • नियमित रूप से इसको करने से माइग्रेन और सिर दर्द का जड़ से इलाज होता है.
  • पाचन शक्ति, भोजन को पचने की शक्ति को बढ़ाता है.
  • कब्ज नहीं होने देता
  • एसिडिटी को दूर करता है
  • पेट व सीने में जलन होने से रोकता है
  • फेंफड़ों में सांस लेने की क्षमता को बढ़ाता है.
  • स्मरण शक्ति को बढ़ाता है.
  • मानसिक क्षमता को बढ़ता है.
  • किडनी के रोगों से बचाता है.
  • त्वचा को मुलायम और जवान बनाता है.
  • शरीर के आलस्य को दूर करता है.
  • शरीर में स्फूर्ति लाता है.
  • शरीर में खून के बहाव को अच्छा करता है.
  • खून की सफाई करता है.
  • जीवन में सकारात्मक शक्ति को बढ़ाता है.
  • जो बार बार बीमार हो जाते है वह इसको करने पर बीमार नहीं पड़ेंगे.
  • शरीर में ऑक्सीजन की क्षमता को बढ़ाता है.
  • आंखों के निचे काले घेरों को मिटाता है.
  • रोजाना इसे करने से चेहरा फूल की कली सा खिल जाता है.
  • दिमाग तेज होता है.
  • चंचल मन को शांत करता है.
  • आदि इसके और भी कई फायदे होते है.

देखिये हम आपको एक बार फिर बता दें की कपालभाति करने से हानि कुछ नहीं होती है, बस अगर कोई निचे बताये जा रहे रोगों में इसे ज्यादा समय तक करे तो कुछ हानि हो सकती है, इसलिए अगर आप किसी भी तरह के रोगी है तो 5-10 मिनट से ज्यादा यह नहीं करे.

कपालभाति किसे नहीं करना चाहिए ?
कपालभाति उन लोगों को नहीं करना चाहिए जिनको हाई ब्लड प्रेशर, ह्रदय रोग, मिर्गी, हर्निया, अल्सर, गर्भवती महिला, खाना खाने के बाद, सांस संबंधी समस्या हो आदि अगर करे तो किसी अनुभवी व्यक्ति की निगरानी में रहकर करे.

तो दोस्तों इस तरह आपने जाने की कपालभाति हमारी जरुरत है, यह एक मात्रा ऐसी दवा है जो सभी तरह के रोगों को नष्ट करती है. इसलिए सुबह कुछ समय निकालकर आप इसे जरूर करे. कुछ ही दिनों के अभ्यास से आप फर्क मेहसु करने लगेंगे.

उम्मीद करते है की आपको यह baba ramdev kapalbhati ke fayde in Hindi chamatkar और labh के बारे में जानकर अच्छा लगा होगा. उम्मीद करते है की आप इसे अपने जीवन में जल्द ही लागू करेंगे. आगे भी हम आपको ऐसे ही सभी कपालभाति प्राणायाम के जैसे चमत्कारी प्राणायामों के बारे में जानकारी देते रहेंगे.

Share करने के लिए निचे दिए गए SHARING BUTTONS पर Click करें. (जरूर शेयर करे ताकि जिसे इसकी जरूर हो उसको भी फायदा हो सके)
आयुर्वेद एक असरकारी तरीका है, जिससे आप बिना किसी नुकसान के बीमारी को ख़त्म कर सकते है। इसके लिए बस जरुरी है की आप आयुर्वेदिक नुस्खे का सही से उपयोग करे। हम ऐसे ही नुस्खों को लेकर आप तक पहुंचाने का प्रयास करते है - धन्यवाद.