टीबी में क्या खाना चाहिए और क्या न खाये : Tb diet in Hindi

tb patient diet chart in hindi, tb me kya khana chahiye, tb me kya nahi khana chahiye, टीबी की बीमारी में भोजन
टीबी में क्या खाना चाहिए और क्या न खाये : Tb diet in Hindi
Rate this post

टीबी में क्या खाये और क्या नहीं खाना चाहिए – TB के रोग से जल्दी उभरने के लिए जरुरी हैं की आप ऐसा भोजन लें जो की आपकी रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाये व शरीर को बीमारी से लड़ने की ताकत दे सके. ऐसे ही फल, सब्जी आदि के बारे में हम यहाँ आपको बताने जा रहे हैं, चूँकि टीबी एक जानलेवा बीमारी हैं व हर साल इससे 30 लाख से ज्यादा लोग मर रहे हैं इसलिए जरुरी हैं की इस बीमारी के बारे में गंभीर हो जाए व टीबी के भोजन व इलाज पर पूरा ध्यान दें आइये जाने TB में परहेज और आहार के बारे में.

tb in hindi

Tb टीबी क्या होती हैं – टीबी के एक बैक्टीरिया के संक्रमण में आने से होती हैं, यह बैक्टीरिया शरीर में पहुंचकर सबसे पहले फेंफड़ों को क्षति पहुंचाता हैं अगर हम इसका समय पर उपचार न करे तो यह फेंफड़ों को नुकसान पहुंचते हुए शरीर को दूसरे अंगों की और बढ़ता हैं व उनको भी नुकसान पहुँचाने लगता हैं जिससे रोगी की हालत बहुत ही बुरी हो जाती हैं. यह रोग छुआछूद से होता हैं, अथवा जिसे टीवी की बीमारी हैं उसका झूठा न खाये, जब वह छींके तो उससे दूर रहे, झूठा पानी आदि न पिए Tb patient tuberculosis diet in hindi.

टीबी में क्या खाना चाहिए और क्या खाये

Tb Me Kya Khaye in Hindi

tb patient diet chart in hindi, tb me kya khana chahiye, tb me kya nahi khana chahiye, टीबी की बीमारी में भोजन

  • हरी सब्जी – ज्यादा से ज्यादा हरी पत्तेदार सब्जियां खाये, हरी पत्तेदार सब्जियों में ढेर सारे पोषक तत्व होते हैं जो की शरीर को हर तरह से पुष्ट करते हैं. जैसे पालक, गोभी, मेथी, टमाटर, करेला, लोकि आदि की सब्जी बनाकर खाये.
  • गाजर, शिमला, चेरी, बेरीज और टमाटर एंटीऑक्सीडेंट होते हैं और इनका सेवन टीबी की बीमारी में अत्यंत लाभकारी होता हैं.
  • गाजर का रस व गाजर को काटकर उसमे नमक लगाकर खाना भी बहुत फायदेमंद होता हैं.
  • जैतून के तेल से सब्जियां बनाकर खाये
  • केला खाने से भी टीबी में बहुत फायदा होता हैं, 300 ग्राम दूध में 2 कली लहसुन की बारीक़ पीसकर अच्छे से उबाले, जब यह उबलकर
  • आधा घड़ा से रह जाये तो गैस से उतारकर इसका सेवन करे. रोजाना सुबह व रात को सोते समय इसका सेवन करने से 1-2 महीने में tb
  • ख़त्म हो जाती हैं.
  • नारियल पानी भी टीबी की बीमारी में बहुत लाभकारक होता हैं. इसके अलावा 30 ग्राम कच्चा नारियल खाने से भी tb में बहुत फायदा होता हैं.
  • रोजाना नियमित रूप से आधा कप गाय का मूत्र 1 महीने तक पिने से TB का रोग ख़त्म हो जाता हैं. इस प्रयोग को 2 महीने तक करते रहने से TB जड़ से चली जाती हैं.
  • सहजन की ताज़ा पत्तियां लेकर एक-डेढ़ कप पानी में अच्छे से उबाले व नीम्बू का रस भी मिला दें फिर रोजाना सुबह के समय इसे खाली पेट होने पर पिए. इसके सेवन से बहुत लाभ होगा. साथ ही सहजन की सब्जी, सहजन के बीज व पत्तों का सेवन किसी भी रूप में करने से बहुत लाभ होता हैं, सहजन टीबी में जरूर खाना चाहिए.
  • आंवला रोगप्रतिरोधक क्षमता को बढ़ने में बहुत मदद करता हैं. इसके लिए आपको आंवला खाना चाहिए व आंवला का चूर्ण का प्रयोग भी रोजाना नियमित रूप से करना चाहिए इसके साथ ही अगर आप आंवला का रस पीते हैं तो और भी फायदा होगा. आपके शरीर को बैक्टीरिया से लड़ने की ताकत मिलेगी.
  • टीबी के मरीज को संतरे का रस भी हर तरह से tb में लाभप्रद होता हैं. यह रोगप्रतिरोधक क्षमता बढ़ाता हैं, पेट साफ़ करता हैं व शरीर को ऊर्जा प्रदान करता है. TB में आने वाली बलगम कफ को भी ख़त्म करता हैं.
  • Tb में क्या खाना चाहिए – सीताफल को TB के रोगी को नियमित रूप से खाना चाहिए, यह TB की बीमारी में बहुत लाभ देता हैं.
  • अखरोड खाना भी टीबी में लाभदायक होता हैं, टीबी की बीमारी में यह ज्यादा खाये.
  • सलमान, टूना मछली में ओमेगा 3 पाया जाता हैं व यह शरीर की इम्युनिटी को बढ़ने में भी लाभकारी होती हैं. अगर आप मांसाहारी हैं तो टीबी की बीमारी में भोजन में इन मछलियों का सेवन कर सकते हैं.
  • शरीर को नया खून देने के लिए व शरीर के खून की सफाई के लिए अनार का सेवन भी करना चाहिए.
  • टीबी के मरीज को चुकुन्दर का सेवन भी टीबी में करना चाहिए, इसको सीधे ही खा भी सकते हैं व इसका रस भी लाभप्रद होता हैं.
  • टीबी TB में मौसमी फलों का रस भी लेना चाहिए, चाहे जो भी हो आपको दिन में 2-3 बार अलग-अलग फलों के रस का सेवन जरूर करना चाहिए इससे आपको टीबी में विशेष लाभ होगा. फल जैसे अनार, अनानस, अंगूर, चुकुन्दर, सेब, संतरा, चीकू, पपीता, केला आदि.

  • नियमित रूप से गुलकंद को दूध में मिलाकर पिए
  • सुबह की धुप में रोगी को बिठाये व धूंप को पुरे शरीर पर पढ़ने दें
  • टीबी में बकरी का दूध बहुत फायदा करता हैं, इसके लिए आपको ज्यादा से ज्यादा बकरी का दूध लेना चाहिए सुबह शाम दोनों समय ले.
  • टी बी रोग में खानपान – किसी भी रूप में खजूर, छुहारे व नारियल, केला, बकरी का दूध, फलों के रस का सेवन करे.

प्रोटीन से भरपूर

  • शरीर को ताकत की जरूरत होती हैं ऐसे में रोगी को भरपूर मात्रा में प्रोटीन देने वाले भोजन का सेवन जरूर करना चाहिए जैसे – सूखे फल, अखरोड, मिल्कशेक, अंडे, पनीर, सोयाबीन, दूध, दही, मछली सलमान और टूना, मूंगफली, बादाम, गेहूं की रोटी आदि वह सभी भोजन जिनमे प्रोटीन सरलता से ज्यादा से ज्यादा मिलता हो उसको को टीबी रोग में खाना चाहिए.

विटामिन A E C

  • शरीर को बैक्टीरिया से लड़ने के लिए मजबूती की जरूरत होती हैं इसके लिए जरुरी हैं की हम ऐसा आहार भी ले जिसमे सभी तरह के विटामिन पाए जाते हैं जैसे नारंगी, संतरे का रस, आम का रस, पपीता का रस, कद्दू, गाजर, अमरुद, अमला, नीम्बू,  हरी पत्तेदार सब्जियां व मौसमी फलों के रस का सेवन करना चाहिए.

एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर भोजन

  • ऐसा आहार ज्यादा से ज्यादा लें जिसमे एंटीऑक्सीडेंट ज्यादा से ज्यादा मात्रा में पाए जाते हो. जैसे डार्क चॉकलेट्स, पिकन्स, आटिचोक, अंगूर, अनार, अनानस, कीवी, क्रैनबेरी, एप्रीकॉट, अरोनिअ, नाशी, मुनक्का, गाजर और नीम्बू आदि tb के पेशेंट को खाना चाहिए इससे शरीर को शक्ति मिलेगी, टीबी की बीमारी में भोजन ऐसा ही होना चाहिए.

TB में परहेज – टीबी की बीमारी में भोजन

  • टीबी Tb में देर से पचने वाला भोजन नहीं करना चाहिए
  • अल्कोहल पीना बिलकुल बंद कर दें
  • टीबी रोग में सिगरेट्स, गुटका, पान, हुक्का आदि नशीली चीजों का TB में परहेज करे.
  • टीबी रोग में जिन चीजों में कैफीन पाया जाता हो उसका सेवन न के बराबर करे, जैसे चाय में कैफीन ज्यादा होता हैं.
  • बाजार की चीजों के सेवन से बचे, पास्ता, पिजा आदि का TB में परहेज करे.
  • वह आहार जो रिफाइंड तेल से बनता हो उसका सेवन बिलकुल भी न करे
  • टीबी में ज्यादा मांसाहारी भोजन न करे, आप सलमान मछली और टूना मछली खा सकते हैं.
  • टीबी में ज्यादा मिर्च मसलों से बनी चीजों का सेवन बिलकुल न करे
  • खांसी आने पर टीबी में ज्यादा जोर लगाकर न खांसे
  • Tb टीबी की दवाइयों के कोर्स का पूरा सेवन करे, किसी भी परेशानी या साइड इफेक्ट्स से घबराकर दवा लेना न छोड़ें.
  • जब भी छींक आये तो एक रुमाल पास में रखे व रुमाल का छिनक आते समय प्रयोग करे
  • अपना झूठा पानी किसी को न पिलाये और न ही किसी का झूठा पानी पिए
  • दूसरे के कपडे न पहने और न ही TB के रोगी के पास सोये
  • TB टीबी के रोगी से बात करते वक्त दुरी रखे, tb का रोगी थूके तो उस थूक से भी दूर रहे.

यह पोस्ट भी एक बार जरूर पड़ें

  • इस पोस्ट के पिछले पेज में हमने रामबाण 30 दिन में इस रोग को मिटने वाले उपाय बताये थे, आप उन्हें एक बार जरूर पड़ें : NEXT PAGE

हर साल इस बीमारी से कई लोग मारे जा रहे है, सिर्फ इसलिए क्योंकि व इलाज में बेपरवाही करते है और ठीक से खान पान नहीं करे. तो दोस्तों आपको हमने साड़ी जानकारी दे दी है आप इनको नजरअंदाज न करे.

तो दोस्तों इस तरह टीबी में क्या खाना चाहिए और tb me kya khaye tuberculosis diet in Hindi इस बारे में आपने सारी जानकारी प्राप्त कर ली हैं, अब आपको कहीं किसी से यह पूछने की जरुरत नहीं हैं अब आप इन सब बातों पर ध्यान दें और पिछले पेज भी जरूर पड़ें.

आयुर्वेद एक असरकारी तरीका है, जिससे आप बिना किसी नुकसान के बीमारी को ख़त्म कर सकते है। इसके लिए बस जरुरी है की आप आयुर्वेदिक नुस्खे का सही से उपयोग करे। हम ऐसे ही नुस्खों को लेकर आप तक पहुंचाने का प्रयास करते है - धन्यवाद.