कमज़ोरी आने पर टाइफाइड में क्या खाये और क्या नहीं खाना चाहिए

Sending
User Review
0 (0 votes)

typhoid me kya khaye, typhoid me khana chahiye

यहां हम आपको टाइफाइड में क्या खाये और क्या न खाये इन हिंदी में पूरी जानकरी के साथ बताएंगे. इसके जरिये आप टाइफाइड बुखार से जल्दी छुटकारा पा सकते हैं. आप यहाँ बताये जा रहे भोजन, आहार का सेवन कर अपने शरीर की खोई हुई शक्ति जल्दी से बना सकते है. और जो टाइफाइड की कमजोरी आई है वह भी इससे बहुत जल्दी ठीक हो जाएगी.

जैसा की आप भी जानते होंगे की टाइफाइड होने से शरीर में खून की कमी बढ़ जाती है, जो की रोगी को बहुत ही कमजोर कर देती है साथ ही यह रोगप्रतिरोधक क्षमता और लिवर की भी बुरी हालत कर देता है. इसीलिए टाइफाइड में क्या करना चाहिए फल सब्जी इसके बारे में हर रोगी को अच्छे से मालूम होना चाहिए.

  • क्यों जरुरी हैं टाइफाइड में सही खाना
  • रोग/बीमारी चाहे कोई सी भी हो वह शरीर को अंदर से कमजोर कर देती हैं. खासकर पाचन तंत्र, लिवर आदि को जो की भोजन को पचाने में अहम् भूमिका निभाते हैं. और जब शरीर के यह अंग कमजोर पढ़ जाते हैं तब यह ठीक से अपना काम नहीं कर पाते और अगर ऐसे में भारी व अनियमित भोजन करेंगे तो यह अंग उसे ठीक से पचा (Digest) नहीं कर पाएंगे.
  • इसलिए हर एक बीमारी में हल्का व नियमित भोजन महत्व रखता है. यह हल्का भोजन शरीर की पाचन प्रणाली पर ज्यादा दबाव नहीं डालता यानी पाचन तंत्र को इसे पचाने में ज्यादा काम नहीं करना पढता जिससे शरीर के अंग को राहत मिलती हैं.
  • तो शायद अब आप टाइफाइड में क्या नहीं खाना चाहिए और क्या भोजन करना चाहिए इसके महत्व के बारे में अच्छे से समझ गए होंगे. अब हम टाइफाइड के लक्षण और कारण के बारे छोटे रूप में जानने की कोशिश करते हैं.
  • Read : दस्त का इलाज

Bacteria Salmonella typhi शरीर में कैसे आता हैं

  • यह बैक्टीरिया हमारे मुंह के जरिये दूषित पानी व ख़राब भोजन करने से प्रवेश करता हैं. जब हम कहीँ यात्रा (Tour) पर जाते हैं तो वहां हमे मज़बूरी में जैसा पानी व भोजन मिल जाए उसी से काम चलाना पढता हैं. ऐसे में अगर इस भोजन व पानी में Salmonella typhi bacteria होगा तो यह आपके शरीर में प्रवेश कर जाएगा.
  • और इसके साथ ही यह किसी बीमार व्यक्ति का झूठा पानी व भोजन करने से भी शरीर में प्रवेश कर जाता हैं. भारत में ज्यादातर टाइफाइड सर्दी जुकाम, खांसी व सामान्य बुखार के होने पर इनका समय पर इलाज न करवाने व देखभाल न करने से होता हैं. ऐसे में यह बैक्टीरिया शरीर में तेजी से फेल जाता हैं.

 टाइफाइड में क्या खाये और क्या न खाये

Typhoid Me Kya Khana Chahiye in Hindi

अब हम आपको टाइफाइड फीवर में क्या खाना चाहिए और क्या नहीं खाना चाहिए इसके बारे में पूरी information देंगे. इन चीजों को खाने से आप टाइफाइड में कमजोरी महसूस नहीं करेंगे, यह आपके शरीर को क्षीण होने से बचाएंगी.

  • टाइफाइड बुखार में केला खाये : यह शरीर की कमजोरी को दूर करता है और तुरंत ही शरीर को ऊर्जा देता है. सुबह नाश्ते में दूध के साथ केले ले सकते है, केला टाइफाइड में खाना चाहिए.
  • 5 लौंग को 1 लीटर पानी में डालकर अच्छे से उबाले और फिर दिन में कई बार एक-दो घंटे की गैप में एक कप की मात्रा में यह पानी पिए.
  • इसके अलावा दिन में भी लौंग मुंह में डालकर चूसते रहे.
  • जिसे टाइफाइड हुआ है उसको उबला हुआ पानी ही पिलाये, यानी पानी उबालकर ठंडा होने पर पिलाये.
  • मुनक्का टाइफाइड में खाये : ज्यादा से ज्यादा बड़े मुनक्का खाये, आप इनमे सेंधा नमक मिलाकर खाये तो बुखार का असर कम होगा, यह जरूर खाये. इनको बीचमे से छिले और इन के बीज को निकाल कर फेंक दें फिर खाये.
  • आप इस बीमारी में हल्का आहार ले खिचड़ी, टमाटर की सब्जी, हरी पत्तेदार सब्जी, पालक, मूंग दाल आदि.
  • सुबह के समय रोजाना भोजन करने या नाश्ता करने के बाद आप 1 गिलास दही जरूर ले, यह बैक्टीरिया को ख़त्म करने में रामबाण भूमिका निभाता है.
  • अगर कब्ज है इसबगोल के दानो को हलके गर्म पानी में डालकर पिए.
  • अगर ज्यादा कमजोरी है आपको तो दिन में पानी के अंदर ग्लूकोस मिलाकर बार-बार पिए.
  • अगर नारियल पानी आपके पास उपलब्ध हो तो इसका सेवन भी ज्यादा से ज्यादा करे. नारियल का पानी और नारियल टाइफाइड में खाये.
  • डॉक्टर द्वारा दी गई दवाई हमेशा दूध के साथ ही लें, यह दवा से घबराहट होने से रोकता है.
  • 8 तुलसी के पत्ते, 8 कालीमिर्च और 8 मिश्री के दाने इन सभी को बारीक़ पीस ले और छोटी-छोटी गोलियां बना ले. अब दिन में चार बार यह गोलियां खाये.
  • फलों का रस जैसे : टमाटर का रस, गन्ने का रस, संतरे का रस, सेब का रस, पपीता का रस, चुकुन्दर का रस, केले का रस, अनार का रस आदि सभी तरह के फलों का रस पिए जल्दी तबियत ठीक होगी.
  • अगर आपका पेट ठीक से साफ़ नहीं हो रहा तो रोजाना रात को सोने से पहले गर्म पानी के साथ दो चम्मच त्रिफला चूर्ण जो की पतंजलि स्टोर पर मिल जायेगा मिलाकर पिए.
  • या फिर रात को भोजन करने के बाद अलोएवेरा का रस 20 ML की मात्रा में पिए तो पेट साफ़ हो जायेगा.
  • हर तरह की बीमारी में हमेशा हल्का भोजन करना चाहिए. क्योंकि हल्का भोजन आसानी से जल्दी पच जाता हैं. जिससे पाचन क्रिया पर ज्यादा दबाव नहीं पढता हैं. इसलिए आपको इस बुखार में भारी भोजन, मांस मदिरा, बीड़ी सिगरेट आदि को छोड़ देना होगा. और भूख से कम खाना होगा यानी पेट भरकर भोजन नहीं करना होगा.
  • इसके साथ ही ऐसा भोजन करना होगा जो की आसानी से पच सके जैसे फलों का रस, फलों का सेवन, पत्तेदार सब्जियां, सब्जियों का सूप, उबली हुई सब्जी आदि.
  • Fruits : रोगी को अगर जल्दी स्वस्थ होना हो तो उसके लिए सबसे जरुरी हैं की वह ज्यादा से ज्यादा फलों का सेवन करे. क्योंकि बीमारी में हमारे शरीर को ऐसे भोजन की जरूरत होती हैं जिसमे प्रोटीन और कैलोरी ज्यादा मात्रा में हो ओर पचाने में भी आसान हो. तो ऐसा भोजन सिर्फ फलों को ही कहा जा सकता हैं क्योंकि सिर्फ इनमे ही यह क्षमता मौजूद होती हैं.
  • अनार के दाने
  • अनार का रस
  • नारियल पानी
  • सेब का रस (apple or apple juice)
  • पपीता
  • चीकू
  • चुकुन्दर का रस
  • संतरे का रस
  • ग्लूकोस का पानी आदि
Vegetables Soup For Typhoid Fever

टाइफाइड में फूड्स का सेवन

  • सब्जियों का सूप
  • दलिया टाइफाइड में खाना चाहिए
  • सफ़ेद उबले हुए चावल
  • पालक का सूप
  • पतली रोटियां
  • केले और छाछ का मिक्स सेवन
  • मूंग की दाल और मूंग की खिंचड़ी टाइफाइड में खाये

टाइफाइड में क्या नहीं खाना चाहिए

  • तेज मसालेदार, तैल की तली हुई चीजों को खाने से परहेज करे
  • बाजार की बनी हुई चीजें न खाये इनका टाइफाइड में परहेज करे.
  • भारी भोजन न करे, मांसाहारी भोजन न करे, और पेट भरकर कुछ भी न खाये
  • जिन भोजन में फाइबर ज्यादा मात्रा में हो उनका सेवन न करे
  • यह न खाये cabbage, capsicum and turnip
  • गर्म मसाला, ज्यादा तेल से बनी सब्जी इनका टाइफाइड में परहेज करे
  • ऐसा भोजन न करे जो देर से पचता हो
  • चाय, कॉफ़ी, दारु शराब सिगरेट के सेवन का टाइफाइड में परहेज करे
  • घी, तेल, चिकनी की चीजे, बेसन, मक्का से बने आहार, शक्करकंद, भूरे रंग के चावल टाइफाइड में न खाये
  • बाजार व होटल का भोजन बिलकुल भी न करे ज्यादा मिर्च मसाला और तेल की बनी चीजे भी टाइफाइड में न खाये

किन बातों का ध्यान रखे

  1. टाइफाइड की दवा लेने के बाद कंबल ओढ़कर आराम करे, शरीर में गर्मी आने दें
  2. समय पर याद से दवाई लें
  3. टाइफाइड की दवाइयों का पूरा कोर्स लें. ज्यादातर ऐसा होता हैं की आराम होने पर रोगी दवाई लेना बंद कर देता है जिससे बुखार फिर पलटकर आता हैं.
  4. अगर आपके घर पर साफ़ पानी नहीं हैं तो उसे उबाल कर पिए
  5. 3-4 लीटर फलों का रस पिए
  6. डिहाइड्रेशन का खतरा हो तो नारियल पानी का ज्यादा सेवन करे
  7. समय पर पेट साफ़ करे (पेट साफ़ रखना बहुत जरुरी है)
  8. पानी ज्यादा पिए, दवाइयों को दूध के साथ लें
  • इस पोस्ट का अगला पेज भी पड़ें उसमे इसके इलाज के घरेलु नुस्खे बताये गए है जो की आपको जरूर पता होना चाहिए, अभी पड़ें : NEXT PAGE

उम्मीद हैं दोस्तों आपको टाइफाइड में क्या खाये और टाइफाइड में क्या नहीं खाना चाहिए typhoid diet in Hindi इस बारे में पढ़कर व जानकर बहुत अच्छा लगा हो. इसके अलावा हमने टाइफाइड फीवर के बारे में और भी बहुत से लेख लिखे हैं जिनमे इस बुखार के बारे में खुलकर बताया गया हैं. हमारी आपको सलाह हैं की आप उन्हें भी पढ़ें ताकि आपको इस फीवर के बारे में पूरी जानकारी हो जाए.

Share करने के लिए निचे दिए गए SHARING BUTTONS पर Click करें. (जरूर शेयर करे ताकि जिसे इसकी जरूर हो उसको भी फायदा हो सके)
आयुर्वेद एक असरकारी तरीका है, जिससे आप बिना किसी नुकसान के बीमारी को ख़त्म कर सकते है। इसके लिए बस जरुरी है की आप आयुर्वेदिक नुस्खे का सही से उपयोग करे। हम ऐसे ही नुस्खों को लेकर आप तक पहुंचाने का प्रयास करते है - धन्यवाद.