योग करने के सही और आसान तरीके : नियम, सावधानियां और जानकारी

Sending
User Review
0 (0 votes)

स्टूडेंट : योग करने के तरीके बताये इन हिंदी में : योग आज के समय में काफी बढ़ता जा रहा है, जो की एक काफी अच्छा संकेत है. लेकिन कई लोगों को इसके बारे में पूरी तरह से जानकारी नहीं है जैसे की योग के नियम, सावधानिया और योग किस समय पर करना चाहिए आदि जानकारी ठीक से पता नहीं है. इसी वजह से बहुत से व्यक्ति ज्यादा दिनों तक योग का अभ्यास नहीं कर पाते, आज हम यहां इसी बारे में योग करने के उपायों के बारे में बताने जा रहे है इन योग टिप्स को आप ध्यान से पड़ें tips & Baba ramdev yoga kaise kare in Hindi.

योग क्यों करना चाहिए

योग हमारे शरीर और मन की जरुरत है, यह शरीर को तो स्वस्थ करता ही है बल्कि मन को भी शांत, शुद्ध बनता है और एकाग्रता देता है. रोजाना योग करने से आपके मन में आलस्य, चिंता, मन का उदास होना, उदासी आदि यह सभी दूर हो जाती है. इसके अलावा आपकी सेहत भी बढ़ती है, चेहरे पर एक तेज चमकने लगता है, आपका पूरा चेहरा फूल की तरह खिला हुआ लगने लगता है, भूख बढ़ती है, पाचन सही रहता है मन हमेशा खुश रहता है आदि. योग हमारे शरीर को मन से जोड़ता है. इसलिए बच्चों से लेकर वयस्क व्यक्ति, सभी को रोजाना योग करना चाहिए चलिए आगे पड़ते और इस सवाल yoga karne ke aasan sahi tarike का जवाब देते है पड़ें.

योग करने के तरीके  बताये इन हिंदी में

Yoga Karne Ke Tarike Baba Ramdev Yoga in Hindi

yoga karne ke tarike, yoga karne ke sahi tarike

शायद आप जानते भी नहीं होंगे योग के कितने लाभ होते है, इसके अनगिनत फायदे होते है. कुछ फायदों के बारे में हम आपको निचे बता रहे है. इसके बात योग करने के सही तरीके हम आपको बताएंगे.

योग के फायदे

  • शरीर मजबूत होता है
  • शरीर बार बार बीमार नहीं पड़ता
  • शरीर लचीला बनता है
  • जल्दी थकान नहीं आती
  • याददास्त बढ़ती है
  • चेहरा पर सुंदरता बढ़ती है
  • पूरा शरीर फूल की तरह खिल उठता है
  • पाचन शक्ति बढ़ती है
  • ब्लड प्रेशर कण्ट्रोल में रहता है
  • डायबिटीज कण्ट्रोल में रहती है
  • आधुनिक बीमारियों से बचाव होता है
  • आंखो की रौशनी बढ़ती है
  • पुरे दिन मन खुश रहता है
  • शारीरिक क्षमता बढ़ती है
  • संकल्प शक्ति बढ़ती है
  • हस्थमैथुन करने की आदत से भी छुटकारा मिलता है
  • सम्भोग करने की शमता में विकास होता है
  • शरीर लचीला होता है
  • मांसपेशियों में दर्द नहीं होता
  • हाथ पैर दर्द नहीं करते
  • शरीर की काम करने की क्षमता बढ़ती है
  • भूख खुलती है
  • आंखों की रोशनी बढ़ती है
  • नशे की लत छुट्टी है
  • बुरी आदते छुट्टी है
  • आदि

इसके अलावा योग में कई आसान है, प्रत्येक आसान शरीर पर अलग असर डालता है. अगर हमे किसी विशेष क्षेत्र या शरीर के किसी अंग पर फोकस करना हो तो वैसे आसान करके उसमे सफलता पाई जा सकती है. जैसे कई लोग सम्भोग की शक्ति बढ़ाने के लिए योग करते है तो उसके लिए आपको सम्भोग की शक्ति बढ़ाने वाले ही योग करने होंगे तो आपको बहुत सफलता मिलेगी. इस तरह अलग अलग चीजों की क्षमता बढ़ाने के लिए कई योगासन है.

योग के नियम

योग करने के तरीके में यह भी बेहद जरुरी है की हम योग के नियम को अच्छे से समझ ले ताकि हमे आगे कोई समस्या न हो.

  1. योग सुबह के समय ही करना चाहिए, शाम के मुकाबले 10 गुना ज्यादा फायदे होते है.
  2. योग के लिए जगह खुली और साफ़ सुथरी जगह होनी चाहिए जहां गंदगी न हो.
  3. ऐसी जगह चुने जहां ताज़ा हवा आती हो, यानी पार्क, पेड़ के निचे बैठकर आदि.
  4. योगासन करते वक़्त सांस नाक से ही लें और नाक से ही छोड़ें.
  5. कोई सा भी आसान करते वक्त पहले गहरी सांस लें और फिर आसान करते वक़्त धीरे-धीरे पूरी सांस को छोड़े.
  6. योग हमेशा खाली पेट होने पर ही करना चाहिए
  7. सुबह आप योग करने से 15 मिनट पहले दूध पि सकते है.
  8. हर एक आसान को धीरे-धीरे और पूरा करे.
  9. जल्दबाजी में कोई सा भी आसान नहीं करना चाहिए
  10. योग के नियम किसी भी तरह की बीमारी में योग न करे
  11. गर्भावस्था में भी योग नहीं करना चाहिए
  12. चोंट आदि लगने पर भी योग से दूर रहे
  13. शुरुआत में सरल आसान ही करे
  14. शुरुआत में आराम आराम से योग करे
  15. हलके और ढीले कपडे पहने

योग करने के सही तरीके

  • सबसे पहले खुली और साफ़ जगह चुने, हलके ढीले कपडे पहने. योग में सबसे पहले रोजाना सूर्य नमस्कार करे, इसके बाद दूसरे आसान करे.
    शुरुआत में योगासन करते वक्त मांसपेशियों में दर्द होगा, वह खिंचाव के वजह से होता है. ुमे कोई चिंता की बात नहीं है बस आप आसान करते वक्त धीरे-धीरे आराम से करे. और अपने शरीर को उतना ही झुकाये जितनी उसकी क्षमता हो, शुरुआत में कम झुकेगा क्योंकि आपका शरीर अभी लचीला नहीं है, इसलिए चिंता न करे आप रोजाना योग करेंगे तो 3-4 में ही शरीर लचीला होते दिख जायेगा और मांसपेशियों में खिंचाव का दर्द भी नहीं होगा बल्कि आपको और अच्छा लगेगा.
  • योग के साथ-साथ कपालभाति, ब्रह्मारी प्राणायाम और अनुम विलोमा प्राणायाम जरूर करे. इनके बिना योग अधूरा है.
    15 मिनट योगासन करे और 15 मिनट प्राणायाम करे.
  • इसके बाद 5-10 मिनट के लिए शवासन करे, शवासन यानी लेट जाना, ऐसे जैसे आप मर गए हो अपने पुरे शरीर को ढीला छोड़ दें और आती जाती सांस पर ध्यान दें. बस ऐसे करने से आपको मानसिक शांति मिलेगी और कैसी भी थकान नहीं होगी.

योग करने के फायदे लेने के लिए जरुरी है की आप रोजाना नियम से इसे करे, ऐसा नहीं करे की आज किया और कल नहीं किया. अगर आप ऐसा करते है तो आपको पूरा लाभ नहीं होगा. शुरुआत में आलस्य आएंगे लेकिन आप उन्हें हावी न होने दें.

योग करने का सही समय (टाइम)

  • योग करने का सही टाइम सुबह का होता है, कई लोग शाम को करने का सोचते है. लेकिन शाम को हवा में ताज़ा ऑक्सीजन नहीं होती और आपको पेट भी पूरा खाली नहीं होता. इसलिए शाम को योग नहीं करना चाहिए. इसके बदले सुबह 5 बजे से लेकर 9 बजे के बीचमे कभी भी कर ले तो आपको शाम के मुकाबले 10 गुना ज्यादा लाभ होगा, रोजाना सुबह योग करे.

क्या योग के नुकसान भी होते है ?

  • यह एक अफवाह मात्र है, योग किसी भी तरह से नुकसान नहीं करता. बस शर्त यह है की इसे इसके नियम से किया जाए. ज्यादातर लोग बिना योग करने की विधि और नियम जाने ही योग करने लगते है जिससे उन्हें थोड़ी परेशानियां होती है. तो इसका मतलब यह नहीं की योग नुकसान करता है, ऐसे तो अगर आप नियम से दवाई न ले तो वह भी नुकसान कर देती है. इसलिए आप योग करने से होने वाले नुकसान की इस सोच को निकाल फेंके. कोई किसी तरह का नुकसान नहीं होता आप बेफिक्र हो कर योग करना शुरू करे.

योग में सावधानी

  • योग की सावधानी में बस आप इतना ध्यान रखे की 1. पेट साफ़ (शौच) करने के बाद ही योग करे और योग करने से पहले कुछ भी ना खाये. शुरुआत में सरल आसान करे, कठिन आसान को बाद में करे जब आप अच्छे से योग करने लगे, योग करते वक्त आसान को आराम आराम से करे, पहले ही दिन ज्यादा योग न करे बस यह इतनी सी सावधानियां आपको रखनी है.

योग करने के बाद सो जाना, इसके बदले यह करे

कई लोग योग करने के बाद तुरंत सो जाते है, ऐसा करने से कोई समस्या नहीं होती है. लेकिन अगर आप इसके बजाए शवासन या योग निद्रा करे तो आपको अद्भुत लाभ होंगे. यह आपको साधारण नींद के मुबाले 10 गुना ज्यादा आराम देगा.

सीधे लेट जाए, अपने हाथ पैरों को बिलकुल ढीला छोड़ दें, अपने शरीर को ऐसे छोड़ दें जैसे की वो मर गया हो, आप बस अपने शरीर को अंदर से देखते रहे. इसके बाद मन ही मन भाव करे की मेरा शरीर शांत हो रहा है, इसके बाद अपने ध्यान को पैरों के पास ले जाए और मन ही मन में कहे मेरे पैर शांत हो रहे है इस तरह पैर, घुटने, जांघे (thighs), पेट, छाती और फिर मस्तिष्क इस तरह मन ही मन 2-4 मिनट भाव करते रहे. फिर आखिर में अपनी आती जाती सांस को देखे की वह कैसे आरही है और कैसे बाहर जा रही है बस आपको देखना है, इस बिच कोई विचार लाने की जरूरत नहीं है बस देखे. ऐसे देखते देखते ही आपको नींद आजायेगी और अगर नींद न भी आये तो भी आपको बहुत आराम मिलेगा. जब आप इसमें परिपूर्ण हो जायेंगे तो आपका जीवन बदल जायेगा.

योग करने के बाद विश्राम क्यों

  • योग करने के बाद विश्राम जरुरी होता है, विश्राम आपके शरीर में योग से पैदा की गई शक्ति ऊर्जा आपके शरीर के अंदर दौड़ती है. और जो भी बदलाव आपके शरीर में आये है वह सभी वह इस तरह विश्राम करने से ज्यादा तेजी से बढ़ते है. इसीलिए हमने ऊपर शवासन व योग निद्रा को योगासन करने के बाद करने की सलाह दी है. साधारण विश्राम के मुताबाले यह आपको कई दस गुना ज्यादा फायदा करेंगे इसलिए शवासन या योग निद्रा जरूर करे.

इस तरह हमने आपको Baba ramdev yoga karne ke tarike in Hindi में बताये है. अब आप इसके बारे में सभी कुछ जान गए है, की योग करने की विधि क्या है कब करे क्या नियम है योग की सावधानी और फायदे क्या है आदि सब कुछ अब आपको मालूम हो गया है. सबसे आसान और सही तरीके जिनसे आप कोई दिक्क्त नहीं होगी.

Share करने के लिए निचे दिए गए SHARING BUTTONS पर Click करें. (जरूर शेयर करे ताकि जिसे इसकी जरूर हो उसको भी फायदा हो सके)
आयुर्वेद एक असरकारी तरीका है, जिससे आप बिना किसी नुकसान के बीमारी को ख़त्म कर सकते है। इसके लिए बस जरुरी है की आप आयुर्वेदिक नुस्खे का सही से उपयोग करे। हम ऐसे ही नुस्खों को लेकर आप तक पहुंचाने का प्रयास करते है - धन्यवाद.